उत्तर प्रदेशराज्य

बीते दिनों अमरोहा समेत अन्य जिलों से पकड़े गए स्लीपर माड्यूल्स से NIA की पूछताछ में हुआ राजफाश

 पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सक्रिय स्लीपर माड्यूल्स गणतंत्र दिवस और कुंभ मेले के दौरान ट्रेनों में विस्फोट की साजिश रच रहे हैं। यह राजफाश एनआइए की पूछताछ में बीते दिनों अमरोहा समेत अन्य जिलों से पकड़े गए स्लीपर माड्यूल्स ने किया।

आतंकियों के मंसूबों को ध्वस्त करने के लिए केंद्र सरकार के निर्देश पर खुफिया एजेंसियों ने पूरे प्रदेश में सतर्कता बढ़ा दी है। साजिश का खुलासा होते ही एनआइए, एटीएस, एसटीएफ की टीमें संदिग्धों को दबोचने और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में छिपाकर रखी गई धमाके में प्रयोग होने वाली सामग्री की तलाश में ताबड़तोड़ दबिश दे रही हैं। खुफिया एजेंसियां सभी बिंदुओं पर गहन छानबीन कर रही हैं। इनपुट के आधार पर रेलवे ने दिल्ली-लखनऊ, बिहार से दिल्ली, मेरठ, आगरा, कानपुर, प्रयागराज के रूट से गुजरने वाली और राजधानी, लखनऊ मेल, समेत अन्य वीआइपी ट्रेनों की सुरक्षा बढ़ा दी है। ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों पर जवानों को अत्याधुनिक हथियारों के साथ तैनात किया जा रहा है।

कैंट से गुजरने वाले रेलवे ट्रैक पर सेना की सतर्कता

लखनऊ, आगरा, इलाहाबाद, बरेली समेत अन्य जनपदों में जहां ट्रेनें कैंटोमेंट क्षेत्र से होकर गुजरती हैं। उन इलाकों में सेना के विशेष दस्ते को लगाया गया है।

बाहरियों की निगरानी

सुरक्षा के मद्देनजर जिला पुलिस और एलआइयू को हाइवे समेत शहर के अंदर वाहनों, होटल, ढाबा की सघन चेकिंग के आदेश दिए गए हैं। वहीं, विदेशियों के पासपोर्ट और वीजा की भी पड़ताल की जाएगी।

क्या कहते हैं अफसर?

एसपी रेलवे लखनऊ सौमित्र यादव का कहना है कि कुंभ और गणतंत्र दिवस के मद्देनजर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। स्पेशल ट्रेन समेत अन्य ट्रेनों की बीडीएस टीम से चेकिंग कराई जा रही है। प्लेटफार्म और ट्रेनों में पर्याप्त सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। स्कोर्ट भी लगाया गया है।

Related Articles

Back to top button