राजनीति

amit shah. पश्चिम बंगाल के झाड़ग्राम में रैली के लिए अमित शाह को हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति मिल गई है

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को पश्चिम बंगाल के झाड़ग्राम में रैली के लिए हेलीकॉप्टर उतारने की पुलिस ने अनुमति दे दी है।

प्रदेश भाजपा नेताओं ने स्वीकार किया कि अस्वस्थता के बावजूद अमित शाह झाड़ग्राम में गणतंत्र बचाओ रैली करना चाहते थे, लेकिन राज्य सरकार ने हेलीकाप्टर लैंडिंग की अनुमति नहीं दी थी। इस कारण उनका कार्यक्रम स्थगित करना पड़ा था। रथयात्रा कार्यक्रम उच्चतम न्यायालय द्वारा स्थगित किए जाने के बाद भाजपा ने बंगाल में जोरशोर से गणतंत्र बचाओ रैली शुरू की थी। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मालदा सभा के दूसरे दिन झाड़ग्राम में रैली होनी थी, लेकिन मंगलवार की शाम सूचना आई कि स्वाइन फ्लू से पीड़ित शाह तबियत खराब होने के चलते दिल्ली लौट गए हैं, इसलिए रैली में वे उपस्थित नहीं रहेंगे।

यद्यपि मंगलवार की रात जिला भाजपा अध्यक्ष सुखमय सत्पथी ने इसे गलत बताते हुए कहा था कि बुधवार की सुबह अमित शाह झाड़ग्राम के शालबनी मैदान में आयोजित जनसभा में वक्तव्य रखेंगे। बुधवार की सुबह सभा शुरू होने से पहले भाजपा नेताओं ने स्वीकार किया अमित शाह सभा में नहीं आ रहे हैं। उनके स्थान पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, प्रदेश भाजपा के पर्यवेक्षक कैलाश विजयवर्गीय तथा पूर्व केंद्रीय रेल मंत्री मुकुल राय जनसभा को संबोधित करेंगे, लेकिन यह सवाल बना रहा कि शाह के सभा में न आ पाने की वजह उनकी अस्वस्थता है या फिर शासन से हेलिकाप्टर की अनुमति न मिल पाना। पहले इस पर ना-नुकुर करते रहे दलीय नेताओं ने हेलिकाप्टर लैंडिंग पर शासन के रुख की आलोचना की।

प्रदेश भाजपा सचिव तुषार मुखर्जी ने स्वीकार किया कि तबियत ठीक न होने के बावजूद शाह जनसभा को संबोधित करना चाहते थे, लेकिन शासन ने हेलिकाप्टर लैंडिंग पर पेंच फंसाए रखा। विमान उतरने की अनुमति नहीं दी गई। उन्होंने कहा कि इसके विरोध में महिला मोर्चा की सदस्यों ने मंगलवार की देर रात तक झाड़ग्राम स्थित जिलाधिकारी कार्यालय में प्रदर्शन किया। शासन के अड़ियल रवैये के चलते ही केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को भी कलाईकुंडा से सड़क मार्ग द्वारा सभास्थल तक पहुंचना होगा। दूसरी ओर झाड़ग्राम की जिलाधिकारी आयशा रानीसे बार-बार संपर्क करने के बावजूद उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया। 

बता दें कि अमित शाह इससे पहले मंगलवार को मालदा में एक विशाल सभा को संबोधित किया था। इस सभा में शाह ने विपक्ष के महागठबंधन और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधा था। इस सभा के बाद शाह की तबीयत खराब हुई थी, जिसके बाद वह दिल्ली लौट गए थे। 

मालदा रैली से एक दिन पहले मिली हेलीकॉप्टर उतरने की अनुमति

अमित शाह की यह सभा तमाम बाधाओं के बाद आयोजित हुई। पहले भाजपा की प्रस्तावित रथयात्रा को पश्चिम बंगाल में अनुमति नहीं मिल पाई। इसके लिए हाई कोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक का दरवाजा खटखटाया गया। अमित शाह के हेलीकॉप्टर की मालदा में लैंडिंग का मामला भी सोमवार शाम ही हल हो पाया। इसके लिए होटल गोल्डेन पार्क प्रबंधन की ओर से अपने हेलीपैड का प्रयोग करने की अनुमति दी गई। 

Related Articles

Back to top button