राजनीति

भारत को पाकिस्‍तान की क्रिकेट टीम के साथ क्रिकेट विश्‍व कप में खेलना चाहिए या नहीं?

 भारत को पाकिस्‍तान की क्रिकेट टीम के साथ क्रिकेट विश्‍व कप में खेलना चाहिए या नहीं? इस सवाल पर राजनेता से लेकर खिलाडि़यों तक की राय बंटी हुई है। कांग्रेस नेता और सांसद शशि थरूर वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के साथ खेलने के पक्ष में हैं, उन्‍होंने इसे लेकर एक अतीत का एक उदाहरण भी दिया है। दरअसल, पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्‍तान को चारों ओर से घेरने की कोशिश की जा रही है। इस बीच ये भी कोशिश की जा रही है कि पाकिस्तान को क्रिकेट विश्व कप से बाहर करने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से अपील की जाए।

कांग्रेस नेता और सांसद शशि थरूर वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के साथ खेलने के पक्ष में हैं। थरूर ने एक ट्वीट कर कहा कि 1999 में करगिल युद्ध जब अपने चरम पर था, तब भी भारत ने वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ मैच खेलकर उन्हें हराया था। इस साल पाकिस्‍तान टीम के साथ मैच न खेलने से सिर्फ हमें दो अंकों का नुकसान नहीं होगा, बल्कि यह आत्मसमर्पण से भी बदतर होगा, क्योंकि बिना लड़े ही हम यह लड़ाई हार जाएंगे।

थरूर ने अगले ट्वीट में लिखा, ‘देखिए, हमारी सरकार ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद राष्ट्रीय शोक तक की घोषणा नहीं की है और अब से 3 महीने बाद होने वाले एक मैच को रद करना चाहते हैं? क्या 40 जिंदगियों को गंवाने के बाद भी हमारा खून ठंडा पड़ा है? दरअसल, भारतीय जनता पार्टी लोगों का ध्‍यान भटकाना चाहती है। लेकिन हमें प्रभावी कार्रवाई की जरूरत है, न कि राजनीति की।’

इन्‍होंने भी रखी अपनी राय

यजुवेंद्र चहल बोले, यह कठिन समय है…

भारतीय टीम के युवा लेग स्पिनर यजुवेंद्र चहल ने इस मामले को लेकर बड़ा बयान दिया है। चहल ने कहा, ‘यह हमारे हाथ में नहीं है, अगर बीसीसीआइ कहती है तो हम खेलेंगे अगर वे कहते हैं कि नहीं तो हम नहीं खेलेंगे। मुझे लगता है कि यह कठिन समय है, हमें सख्त कार्रवाई करने की आवश्यकता है। मैं यह नहीं कह रहा हूं कि वहां (पाकिस्तान) सभी लोग गलत हैं लेकिन जो जिम्मेदार हैं उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।’

खेल सभी को जोड़ते हैं- सुशील कुमार 

पहलवान सुशील कुमार ने कुछ अलग राह पकड़ी है। दो बार के इस ओलिंपिक पदक विजेता पहलवान ने कहा है कि वह पुलवामा आतंकी हमले की पुरजोर निंदा करते हैं, लेकिन दोनों देशों के बीच खेल संबंध प्रभावित नहीं होने चाहिए क्योंकि ‘ये (खेल) सभी को जोड़ते हैं।’ सुशील कुमार यहां प्रियदर्शनी ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट द्वारा आयोजित इंटर-कॉलेज स्पोर्ट्स मीट उड़ान 19.0 का उद्घाटन करने आए थे। सुशील ने यहां कहा, ‘पुलवामा में हुए आतंकी हमले की मैं कड़ी निंदा करता हूं। मैं सैनिकों और उनके परिवारों को सल्यूट करता हूं। मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि पूरा देश एक है और उनके साथ खड़ा है।’

विश्व कप देश से बड़ा नहीं- अजहरुद्दीन

अब भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान अजहरुद्दीन ने भी विश्व कप में खेले जाने वाले भारत व पाकिस्तान के मैच पर अपनी प्रतिक्रिया दी। अजहर ने कहा है कि भारत को पाकिस्तान के साथ सिर्फ विश्व कप में ही नहीं बल्कि कहीं भी नहीं खेलना चाहिए। अजहर से पहले टर्बनेटर भज्जी ने भी कहा था कि भारत को पूरी तरह से पाकिस्तान के साथ क्रिकेट संबंध खत्म कर देना चाहिए और विश्व कप में भी नहीं खेलना चाहिए। अब अजहर ने भी हरभजन सिंह के इस बात का समर्थन किया है। अजहरुद्दीन ने कहा कि अगर हम पाकिस्तान के खिलाफ द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज नहीं खेल रहे हैं तो हमें उनके खिलाफ कहीं भी नहीं खेलना चाहिए। मैं हरभजन की बात का समर्थन करता हूं। विश्व कप देश से बड़ा नहीं है।

Related Articles

Back to top button