Uncategorized

ग्‍लोबल फायर पावर के 2018 इंडेक्‍स के मुताबिक सैन्‍य क्षमता के के मामले में भारत चौथा सशक्‍त देश है

केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) के 40 जांबाज जवानों की शहादत का बदला 12 दिन बाद भारत ने कार्रवाई की. इंडियन एयर फोर्स के मिराज विमानों ने नियंत्रण रेखा के पार आतंकवादी कैंपों पर 1,000 किलोग्राम के बम गिराए और उन्हें पूरी तरह तबाह कर दिया गया. भारतीय वासुसेना की इस कार्रवाई में 200 से 300 आतंकियों को मार गिराया गया. इसमें जैश, हिज्बुल और लश्कर के कई आंतकियों को ढ़ेर कर दिया. मंगलवार तड़के 3:45 बजे चलाए गए भारतीय वायुसेना के इस बड़े ऑपरेशन में एयरफोर्स के 12 मिराज फाइटर प्लेन शामिल थे. यह पहला मौका है जब भारतीय वायुसेना ने एलओसी पार कर किसी ऑपरेशन को अंजाम दिया है. यहां तक कि कारगिल युद्ध के दौरान भी एयरफोर्स ने एलओसी पार नहीं की थी.  

पुलवामा हमले के बाद से ही हर भारतीय आतंकवाद को पनाह देने वाले पाकिस्‍तान से बदला लेने की मांग कर रहा था. पाकिस्‍तान ने भी सीमा पर अपनी सैन्‍य गतिविधि बढ़ा दी है. लेकिन सच्‍चाई यही है कि भारतीय सैन्‍य ताकत के आगे पाकिस्‍तान पूरी तरह से ‘फुस्स’ है.

दुनिया के 100 से अधिक देशों की सैन्‍य क्षमता का आकलन करने वाली अंतरराष्‍ट्रीय एजेंसी ग्‍लोबल फायर पावर की एक रिपोर्ट में इसकी झलक दिखती है. 2018 फायरपावर इंडेक्‍स के मुताबिक, सैन्‍य साजो-सामान और गोला बारूद से लेकर लड़ाकू विमानों तक पाकिस्‍तान भारत के आसपास भी नहीं ठहरता. इसके बावजूद पाकिस्‍तान हमेशा भारत की ओर आंख उठाकर देखता है. साथ ही अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आता है.

सैन्‍य क्षमता में भारत चौथा सशक्‍त देश

ग्‍लोबल फायर पावर के 2018 इंडेक्‍स के मुताबिक सैन्‍य क्षमता के के मामले में भारत चौथा सशक्‍त देश है. पहले स्‍थान पर अमेरिका, दूसरे पर रूस और तीसरे पर चीन है. वहीं अगर पाकिस्‍तान की बात करें तो वह इस सूचकांक में 17वें स्‍थान पर है. मतलब साफ है कि पाकिस्‍तान भारत से काफी पीछे है.

आसमानी ताकत में भारत से आधा है पाकिस्तान

भारतीय वायुसेना भी पाकिस्‍तान को धूल चटाने में हर तरीके से सक्षम है. सूचकांक के मुताबिक, भारत के पास पाकिस्‍तान से कहीं अधिक विमान हैं. भारत के पास कुल विमानों की संख्‍या 2,185 है. इसमें लड़ाकू विमानों की संख्‍या 590 है. वहीं जंगी विमानों की तादाद 804 है. इसके साथ ही परिवहन वाले 708 विमान और ट्रेनिंग वाले 251 विमान भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल हैं. भारतीय वायुसेना के पास कुल 720 हेलीकॉप्‍टर मौजूद हैं. इनमें 15 लड़ाकू हेलीकॉप्‍टर हैं.

वहीं, पाकिस्‍तान के पास सिर्फ 1,281 विमान ही हैं. इनमें 320 लड़ाकू, 410 जंगी, 296 परिवहन और 486 ट्रेनर विमान शामिल हैं. साथ ही पाकिस्‍तान के पास 328 हेलीकॉप्‍टर हैं.

पाकिस्‍तान से अधिक सैनिक हैं हमारे पास

2018 के इस सूचकांक के मुताबिक भारत के पास पाकिस्‍तान के मुकाबले अधिक सैन्‍य बल है. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि भारत के पास कुल 42.07 लाख (42,07,250) सैन्‍य बल मौजूद है. इसमें सक्रिय सैनिकों की संख्‍या 13.62 लाख (13,62,500) है. वहीं भारत के पास रिजर्व सैन्‍य बल 28 लाख (28,44,750) है.

अब पाकिस्‍तान की बात करें तो पाकिस्‍तान के पास कुल सैन्‍य बल महज 9 लाख (9,19,000) है. इसमें उसके सक्रिय सैनिकों की संख्‍या 6 लाख (6,37,000) है. वहीं पाकिस्‍तान के पास रिजर्व सैन्‍य बल 2.82 लाख (2,82,000) है.

टैंकों-तोपों में भी  बहुत पीछे है पाकिस्‍तान

भारतीय सेना के पास पाकिस्‍तान से कहीं अधिक युद्धक टैंक और तोपें मौजूद हैं. यह संख्‍या लगभग दोगुनी अधिक है. भारतीय सेना के पास 4,426 युद्धक टैं‍क मौजूद हैं. 3,147 बख्‍तरबंद लड़ाकू वाहन भी भारतीय सेना के पास हैं. सेना के पास 190 स्‍वचालित तोपें हैं. भारत के पास कहीं ले जा सकने वाली 4,158 तोपें (टोव्‍ड आर्टिलरी) मौजूद हैं. इसके अलावा भारत के पास रॉकेट फायर करने वाले 266 रॉकेट प्रोजेक्‍टर हैं.

वहीं, पाकिस्‍तान के पास भारत से लगभग आधे युद्धक टैंक मौजूद हैं. इनकी संख्‍या 2,182 है. पाकिस्‍तान के पास 2,604 बख्‍तरबंद लड़ाकू वाहन, 307 स्‍वचालित तोपें, 1,240 कहीं भी ले जाई सकने वाली तोपें और 144 रॉकेट प्रोजेक्‍टर ही हैं.

शक्तिशाली है भारतीय नौसेना भी 

भारतीय नौसेना भी पाकिस्‍तान को करारा जवाब देने में पूर्णरूप से सक्षम है. भारतीय नौसेना के पास कुल 295 जहाज, पोत, पनडुब्‍बी हैं. इनमें 1 विमानवाहक युद्धपोत भी शामिल है. इसका नाम आईएनएस विक्रमादित्‍य है. इस युद्धपोत से समुद्र में ही 36 लड़ाकू विमान उड़ान भर सकते हैं और उतर सकते हैं.

इसके अलावा नौसेना के पास 14 छोटे और तेज युद्धपोत (फ्रिगेट) हैं. 11 विध्‍वंसक युद्धपोत हैं, 22 छोटे जंगी युद्धपोत (कॉर्वेट), 139 गश्‍ती समुद्री जहाज और बारूदी सुरंग से निपटने के लिए 4 युद्धपोत हैं. इसके अलावा भारत के पास 16 पनडुब्बियां हैं. भारत के पास आईएनएस अरिहंत नामक परमाणु पनडुब्‍बी भी है. इससे समुद्र के नीचे से परमाणु मिसाइलें दागी जा सकती हैं.

ग्‍लोबल फायर पावर के मुताबिक, पाकिस्‍तान के पास कुल 197 युद्धपोत, पनडुब्बियां, गश्‍ती जहाज हैं. उपलब्‍ध आंकड़ों के मुताबिक इनमें 10 छोटे और तेज युद्धपोत (फ्रिगेट) और 5 पनडुब्‍बी और बारूदी सुरंगों का पता लगाने वाले 3 युद्धपोत हैं. पाकिस्‍तान के पास एक भी विध्‍वंसक युद्धपोत और विमानवाहक युद्धपोत नहीं है.

Related Articles

Back to top button