Uncategorized

कोहली को इस विराट समस्या से छुटकारा दिलाएं महेंन्द्र सिंह धोनी

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) के साथ काम करने को तैयार हो गया है. सोमवार को आईसीसी के चेयरमैन शशांक मनोहर के साथ बीसीसीआई के अधिकारियों की अहम बैठक में इस बात का फैसला लिया गया. बीसीसीआई ने इस बैठक में आईसीसी चेयरमैन को भविष्य के टूर्नामेंट में होने वाले भुगतान से अवगत कराया. BCCI अगले छह महीने तक नाडा के साथ काम करेगा. बीसीसीआई ने कहा कि हम 10 प्रतिशत नमूने ही मुहैया कराएंगे जो न्यूनतम जरूरत है.

कभी दिहाड़ी मजदूरी कर जुटाए जूतों के लिए रुपए, अब एथलेटिक्स चैंपियनशिप में जीता गोल्ड मेडल

बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा कि आईसीसी, बीसीसीआई और नाडा के बीच त्रीपक्षीय करार होगा. उन्होंने बताया कि इस करार के तहत पंजीकृत खिलाड़ियों के शैंपल राष्ट्रीय डोप प्रयोगशाला में नाडा के जरिए भेजे जाएंगे. बीसीसीआई ने साथ ही यह भी कहा है कि वह खुद ही खिलाड़ियों के नमूने एकत्र करेगी. बता दें कि इससे पहले खिलाड़ियों के नमूने स्वीडन की आईडीटीएम एकत्रित करती थी. बोर्ड ने अभी तक नाडा को इस बात से अवगत नहीं कराया है. नाडा के महानिदेशक नवीन अग्रवाल ने कहा कि मैं इस बात पर टभी कुछ कहूंगा जब बोर्ड की तरफ से लिखित पुष्टि मिलेगी.

बीसीसीआई ने मनोहर को इस बात से अवगत कराया है कि जब सरकार वैश्विक खेल आयोजनों के लिए कर में छूट नहीं देने की अपनी वर्तमान स्थिति को बनाए रखती है तो वे कैसे कर छूट भुगतान करने की योजना बनाते हैं. अधिकारी ने बताया- 150 करोड़ रुपए की बकाया राशि है जो भारत में 2016 टी-20 विश्व कप के लिए कर में छूट नहीं मिलने से संबंधित है. हमने आश्वासन दिया है कि नई सरकार बनने के बाद हम उनसे छूट का अनुरोध करेंगे.

विश्व डोपिंग निरोधक एजेंसी ने आईसीसी से सीधे तौर पर कहा था कि बीसीसीआई को भी नाडा के दायरे में आकर खिलाड़ियों का डोप टेस्ट कराना होगा. बीसीसीआई काफी समय से एजेंसी की इस बात को नकारता रहा है. सोमवार को BCCI इस शर्त पर नाडा के साथ काम करने को तैयार हुआ कि वह खुद ही खिलाड़ियों के नमूने लेगा और इसमें किसी का हस्ताक्षेप नहीं किया जाएगा. बोर्ड के एक अधिकारी ने बताया कि बैठक में हमने कहा कि नाडा के डोप नियंत्रण अधिकारियों पर हमारा भरोसा नहीं है. पहले भी कई बार नाडा डीसीओ द्वारा नमूने को सही ढंग से एकत्र नहीं करने के मामले सामने आए हैं. उन्होंने कहा कि यहां देश के बड़े बड़े खिलाड़ियों की बात है इसलिए हम किसी पर भी आंख बंद करके भरोसा नहीं कर सकते. BCCI ने कहा कि इस 10 प्रतिशत न्यूतम नमूनों में शीर्ष राष्ट्रीय क्रिकेटरों और कई प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों के नमूने शामिल होंगे

Related Articles

Back to top button