Uncategorized

नमो टीवी के प्रसारण का मुद्दा संसद में भी उठा

लोकसभा चुनाव के दौरान नमो टीवी के प्रसारण का मुद्दा संसद में भी उठा है. जिस पर सरकार ने सफाई दी है कि यह चैनल सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय में लिस्टेड नहीं था. सांसद बालूभाऊ सुरेश नारायण धानोरकर ने 12 जुलाई को सरकार से पूछा था कि क्या नमो टीवी नामक टीवी चैनल सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के चैनलों की सूची में सूचीबद्ध है. यदि हां तो इसका ब्यौरा क्या है. यदि नहीं तो इसके क्या कारण हैं. आम चुनाव 2019 के दौरान इसे कैसे शुरू किया गया? इसका जवाब देते हुए  सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने लोकसभा में 12 जुलाई को बताया कि नमो टीवी सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के चैनलों की सूची में सूचीबद्ध नहीं है. क्योंकि यह डीटीएच ऑपरेटरों की ओर से ग्राहकों को दी जाने वाली प्लेटफॉर्म सेवा थी. हालांकि सरकार की तरफ से सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने यह नहीं बताया कि आम चुनाव 2019 के दौरान इसका प्रसारण कैसे शुरू हुआ.

Related Articles

Back to top button