खेल

इंडिया & ऑस्ट्रेलिया:पर्थ टेस्ट में पिच के बदलते मिजाज पर बोले सचिन- अब ऐसा बर्ताव करेगा विकेट

 टीम इंडिया के ऑस्ट्रेलिया दौरे के दूसरे टेस्ट से पहले कहा जा रहा था कि पिच में उछाल और तेजी देखने को मिलेगी. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली मैच के एक दिन पहले पिच पर घास देखकर काफी खुश नजर आ रहे थे. इसी को देखते हुए वे मैच में चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरे. टॉस हारने के बाद लगा था कि विराट के पेसर सुबह पिच से कुछ फायदा उठा पाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और ऑस्ट्रेलिया ने पहले सत्र में कोई विकेट नहीं गंवाया. वहीं दूसरे सत्र में पिच में कुछ उछाल दिखा और टीम इंडिया ने तीन विकेट लेकर वापसी की. अब विकेट के बदलते मिजाज पर बातें होने लगीं

पहले सत्र में जहां ऑस्ट्रेलिया ने जहां बिना कोई विकेट गंवाए 66 रन बनाए. हालाकि ये रन थोड़ी धीमी गति से आए. वहीं टीम इंडिया को पहली सफलता पारी के 36 वें ओवर में मिली.  जसप्रीत बुमराह ने एरोन फिंच को 50 के निजी स्कोर पर आउट किया उसके बाद जल्द ही उमेश यादव ने उस्मान ख्वाजा को केवल 5 रन पर विकेटकीपर ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट करा दिया. इसके बाद हनुमा विहारी ने कमाल की बाउंसर डालकर मार्कस हैरिस को अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच करा आउट कर टीम इंडिया की वापसी करा दी. चाय तक ऑस्ट्रेलिया का स्कोर तीन विकेट पर 135 रन था. 

पिच के आए इस बदलाव पर भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने भी ट्विटर पर अपनी राय दी. सचिन ने कहा, “मुझे लगता है कि विकेट समय के साथ थोड़ा तेज हो गया है, यह अब केवल कठोर होगा और इसमें तेजी और उछाल आएगा.”

इस मैच से पहले विराट को पहले टेस्ट में अश्विन के चोटिल हो जाने के बाद उनका विकल्प चुनना था, लेकिन पर्थ के नए ऑप्टस मैदान पर तेज पिच के संभावना को देखते हुए विराट ने टीम में एक स्पिनर, यानि रवींद्र जडेजा की जगह तेज गेंदबाज को तरजीह दी. मैच के एक दिन पहले जब टीम इंडिया के 13 सदस्यीय टीम का ऐलान हुआ था. तभी तय हो गया था कि रोहित शर्मा और रविचंद्रन अश्विन पर्थ टेस्ट में नहीं खेलेंगे क्योंकि उन्हें एडिलेड टेस्ट में चोट लग गई थी. 

विराट के पास अश्विन की जगह नियमित स्पिनर के तौर पर जडेजा को शामिल करने का विकल्प था जो टीम की बल्लेबाजी को भी मजबूती प्रदान कर सकते थे. लेकिन इन तमाम बातों को दरकिनार करते हुए विराट ने तय किया कि वे पर्थ में चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरेंगे. इसीलिए उन्होंने उमेश यादव को चुना. विराट ने स्पिन के लिए हनुमा विहारी पर भरोसा किया. विहारी ने इस भरोसे पर खरा उतरते हुए विराट को मार्कस हैरिस का अहम विकेट दिला दिया.

Related Articles

Back to top button