उत्तर प्रदेशराज्य

पुलिस की लापरवाही के कारण रोड रोलर थाने नहीं ले जाया गया था और घटना स्‍थल पर ही खड़ा था

हादसे के बाद चौराहे के पास खड़े रोलर को एक युवक चोरी-छिपे गुरुवार देर रात ले जाने लगा। इस बीच रोलर अनियंत्रित होकर एक दुकान में जा घुसा। जिससे दुकान क्षतिग्रस्त हो गई। गौरतबल है कि इसी रोलर से कुचलकर सुबह एकाउंट अफसर ह्दयनारायण दुबे की मौत हो गई थी।

लोगों ने बताया कि गुरुवार सुबह हुए सड़क हादसे के बाद रोलर सड़क पर ही खड़ा था। पुलिस ने उसे अपने कब्जे में नहीं लिया था। रोलर का रजिस्ट्रेशन नंबर भी नहीं था जिससे पता चल सके कि वह किसका है। देर रात कोई रोलर स्टार्ट कर ले जा रहा था। तभी वह अनियंत्रित होकर राजकुमार की दुकान में जा घुसा था। शोर सुनकर आस पड़ोस के लोग जगे तो रोलर ले जा रहा व्यक्ति भाग निकला।

दुकान इटौंजा के अर्जुनपुर निवासी राज कुमार की है। राजकुमार ने बताया कि उसकी पूरी दुकान क्षतिग्रस्त हो गई और जब वह तहरीर लेकर थाने पहुंचा तो पुलिस ने सुनवाई भी नहीं की। पुलिस ने उल्टा कहा कि यह रोलर तुम रख लो जबतक मालिक तुम्हारे नुकसान की भरपाई न करे।

वहीं इंस्पेक्टर ने बताया कि उन्होंने रोलर के बारे में पता लगाने की कोशिश की थी कि उसका मालिक कौन है पर जानकारी नहीं हो सकी। रोलर चलाकर थाने तक पहुंचाने वाला कोई भी व्यक्ति नहीं मिला था। जिसके कारण रोलर घटनास्थल पर ही खड़ा था।

Related Articles

Back to top button