राज्य

CM अरविंद केजरीवाल ने कहा-निर्भया के दोषी ढूंढ रहे कानूनी दांव पेंच, छह माह में हो फांसी

निर्भया के दोषियों को एक फरवरी को फांसी नहीं होगी। पटियाला हाउस कोर्ट में अगले आदेश तक डेथ वारंट पर रोक लगा दी है। निर्भया के दोषियों के खिलाफ दो बार डेथ वारंट जारी हुआ और उसे टाल दिया गया। इस फैसले के बाद लोगों में निराशा और गुस्‍सा है। इस मामले पर ट्वीट करते हुए दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मुझे दुख है कि निर्भया के अपराधी कानून के दांव पेंच ढूंढ कर फांसी को टाल रहे है। उनको फांसी तुरंत होनी चाहिए। हमे हमारे कानून में संशोधन करने की सख्त जरूरत है ताकि रेप के मामलों में फांसी 6 महीने के अंदर हो।

लगातार दूसरी बार दोषियों की फांसी टलने से निर्भया की मां के सब्र का बांध टूट गया। फैसले के बाद वह कोर्ट के बाहर रोते हुए बोलीं कि सात साल पहले उनकी बेटी के साथ अपराध हुआ और सरकार बार-बार उन्हें मुजरिमों के सामने झुका रही है। उन्होंने कहा कि उनकी लड़ाई जारी रहेगी।

निर्भया की मां ने कहा कि ‘कहीं ना कहीं सरकारों की चाल है। हमें सांत्वना देते रहे। क्योंकि उनका वोट आने वाला है। सात साल पहले ये लोग पूरी दिल्ली में झंडा उठाए, टोपी पहनाए कि हम दिल्ली में महिलाओं की सुरक्षा करेंगे। अब तीसरी बार वोटिंग हो रही है, लेकिन मुजरिम का वकील मुझे चैलेंज करके गया है कि यह फांसी नहीं होगी।’

Related Articles

Back to top button